भारत में सड़क परिवहन

भारत में सड़क परिवहन

Yamuna Expressway Delhi Agra India August 2013.jpg

Website worth
http://fkrt.it/DvnHdTuuuN

भारत का सड़क नेटवर्क दुनिया में दूसरा सबसे बड़ा नेटवर्क  है। भारत में सड़कों की कुल लंबाई 54लाख किमी से अधिक है।

  • रखरखाव और निर्माण के उद्देश्य से सड़कों को राष्ट्रीय राजमार्ग, राज्य राजमार्ग, जिला राजमार्ग, गांव की सड़कों, सीमा सड़क, आदि के रूप में वर्गीकृत किया गया है।
  • केन्द्र सरकार द्वारा राष्ट्रीय राजमार्गों का रखरखाव किया जाता है, संबंधित राज्य सरकार द्वारा राज्य राजमार्गों का, जबकि जिला राजमार्गों का रखरखाव संबंधित जिला बोर्ड द्वारा। सीमा सड़क और अंतर्राष्ट्रीय राजमार्गों की जिम्मेदारी भी केन्द्र सरकार पर है।
  • भारत में राष्ट्रीय राजमार्गों की वर्तमान लंबाई लगभग 45,000 किमी है। ये कुल सड़कों की लंबाई का केवल 2% है और इनपर लगभग 40% सड़क यातायात किया जाता है।

कुछ महत्वपूर्ण राष्ट्रीय राजमार्ग ये हैं:

  • राष्ट्रीय राजमार्ग 1: नई दिल्ली – अंबाला – जालंधर – अमृतसर।
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 2: दिल्ली – मथुरा – आगरा – कानपुर – इलाहाबाद – वाराणसी – कोलकाता।
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 3: आगरा – ग्वालियर – नासिक – मुंबई
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 4: ठाणे और चेन्नई, पुणे और बेलगाँव के माध्यम से।
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 5: कोलकाता – चेन्नई
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 6: कोलकाता – धुले
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 7: वाराणसी – कन्याकुमारी
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 8: दिल्ली – मुंबई (जयपुर, बड़ौदा और अहमदाबाद के माध्यम से)
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 9: मुंबई – विजयवाड़ा
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 10: दिल्ली – फाजिल्का
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 11: आगरा – बीकानेर
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 12: जबलपुर – जयपुर
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 24: दिल्ली – लखनऊ
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 27: इलाहाबाद – वाराणसी
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 28: बरौनी – लखनऊ
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 29: गोरखपुर – वाराणसी
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 56: लखनऊ – वाराणसी
  • राष्ट्रीय राजमार्ग 44: भारत का सबसे लम्बा राजमार्ग है।

नोट:

स्वर्णिम चतुर्भुज में राष्ट्रीय राजमार्ग शामिल हैं, ये चार मेट्रो शहरों को कनेक्ट कर रहा है, जो हैं, दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता। इसके घटकों की कुल लंबाई 5846 कि.मी. है और ये दिसंबर 2003 तक पर्याप्त रूप से पूरा करने के लिए निर्धारित था ।

उत्तर दक्षिण गलियारे में श्रीनगर से कन्याकुमारी तक कोच्चि सलेमपुर सहित और इनको जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्गों को शामिल किया गया है और ईस्ट वेस्ट कॉरिडोर में सिलचर को पोरबंदर से जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग शामिल हैं। इस परियोजना की कुल लंबाई 7300 कि.मी. है।

राज्य सड़क

  • इनका निर्माण और रख रखाव राज्य लोक निर्माण विभाग द्वारा किया जाता है।
  • विभिन्न जिला मुख्यालयों के साथ राज्य की राजधानी को जोड़ने वाली सड़कें राज्य की सड़के कहलाती हैं।
  • सभी सड़कों की कुल लंबाई का 5.6% इन सड़कों से बनता है। अन्य सड़कें इन को ग्रामीण सड़कों के रूप में वर्गीकृत किया जाता है और ये शहरों के साथ ग्रामीण क्षेत्रों और गांव को जोड़ने का कार्य करती हैं। कुल सड़कों का 93% से अधिक इसी वर्ग में शामिल है।

सड़कों की कुल लंबाई (अवरोही क्रम में राज्यवार): महाराष्ट्र ,उड़ीसा, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, केरल, राजस्थान, गुजरात, बिहार

राष्ट्रीय राजमार्ग (अवरोही क्रम में राज्यवार) की लंबाई: मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, असम, बिहार, तमिलनाडु, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल, उड़ीसा, गुजरात

  • जम्मू-कश्मीर में सबसे कम (10 किमी)
  • केरल में सबसे ज्यादा (375 किमी) राष्ट्रीय औसत (75 किमी)

पक्की सड़कों का घनत्व

  • राष्ट्रीय औसत – (42.4 किमी)
  • गोवा में उच्चतम घनत्व है – (153.8 किमी)
  • जम्मू-कश्मीर सबसे कम घनत्व (3.7 किमी) है
  • सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय, भारत सरकार का एक मंत्रालय है। यह, नियमों, विनियमों और सड़क परिवहन से संबंधित कानूनों, राष्ट्रीय राजमार्गों और परिवहन अनुसंधान के निर्माण और प्रशासन के लिए शीर्ष निकाय है। सड़क परिवहन देश के आर्थिक विकास के लिए एक महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचा है। यह गति, संरचना और विकास के प्रतिरूप को प्रभावित करती है। भारत में कुल माल का ६० प्रतिशत और यात्री यातायात के ८५ प्रतिशत, सड़कों पर ले जाया जाता है। इसलिए, इस क्षेत्र का विकास भारत के लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है और बजट में एक महत्वपूर्ण भाग बनाता है। मई २०१४ से नितिन गडकरी, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के मंत्री है।
  • भारत दुनिया में सबसे बड़ी सड़क नेटवर्कों में से एक है।कुल निर्माण लंबाई 4885000 कि॰मी॰ है। यह होते हैं:
    सड़क की लंबाई वितरण
    सदक लंबाई
    राष्ट्रीय राजमार्ग/द्रुतगामीमार्ग ९२,८५१ किमी
    राज्य राजमार्ग १,४२,६८७ किमी
    अन्य सड़क ४६,४९,४६२ किमी
    कुल ४५,८५,००० किमी

About freecivilexam 659 Articles
1.myself suraj pratap Pursuing J.R.F(Junior Research Fellowship) PhD and my facebook page link:- https://www.facebook.com/tgtpgthigher/ 2.this is the group for ias/pcs/other competitive exams hope you like and share in facebook account or twitter/ whatsapp. 3.My aim is to work innovatively for the enhancement and betterment of education. I aspire to work for an institution like my website which offers career growth and chances to learn and improve my knowledge. 4.if you want to read the content in english than click-translate than click hindi language(हिन्दी) than(after convert in hindi) click english language(अंग्रेजी)..ok suraj pratap

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*